Tuesday, February 19, 2019

बाल झड़ने की समस्या




बाल झड़ना आज प्रत्येक व्यक्ति की समस्या है। लेकिन इसके पीछे क्या-क्या कारण है हमें इनका बोध नहीं है। वैसे देखा जाए तो सबके ही बाल झड़ते है और नये पैदा होते रहते हैं। यह एक सामान्य प्रक्रिया है। मेडिकल साइंस मानती है कि मनुष्य के 10 प्रतिशत बल सदा टूटते रहते हैं। और 90% ही सिर पर मौजूद रहते हैं। लेकिन बाल टूटने की यह प्रक्रिया जब 10 % के आंकड़े को पार कर जाये तो व्यक्ति के लिए चिंताजनक स्तिथि पैदा हो जाती है। ज्यादा बाल झड़ने के पीछे बहुत से कारण हो सकते हैं। जैसे-    

1. बालों में रूसी का होना।
2. पाचन विकार, बदहज़मी, लिवर के विकार आदि।
3. थायरॉइड ग्रंथि का अधिक सक्रिय या कम सक्रिय होना भी बाल झड़ने का कारण बनता है।
4 . बच्चे को जन्म देने के लगभग तीन महीने के अंतराल में माँ के बाल तेजी से झड़ने लगते हैं।
5 . ज्यादा तनाव के कारण भी बाल झड़ने की समस्या देखी गई  है।
6 . कीमोथेरेपी के बाद भी बहुत बाल झड़ते हैं।
7. Steroid एवं तनाव की दवाई ज्यादा दिन लेने से भी बहुत बाल झड़ते हैं।
8. दाल, हरी सब्जियों एवं सलाद का सही ढंग से सेवन करना भी बाल झड़ने का एक मुख्य कारण है।
      
        आपने महसूस किया होगा कि जब से शैम्पू का अधिक प्रचलन हुआ है तब से बाल झड़ने की समस्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है। अधिकतर कंपनिया शैम्पू बनाने के लिए सोडियम लॉरेट का इस्तेमाल करती है। जिससे बहुत सारा झाग पैदा होता है। ये झाग किसे अच्छा नहीं लगता? पर आपको सच बताएं तो यह केमिकल आमतौर पर गैरेज, फर्श एवं कारखानों में गंदगी साफ़ करने के लिए प्रयोग में लाया जाता है। "यूनिवर्सिटी ऑफ़ पेन्सिलवानिया" हेल्थ सिस्टम के के अधिशासी सचिव माईकेल हेल ने बताया कि अब यह सिद्ध हो चुका है कि सोडियम लॉरेट सल्फेट के ज्यादा लंबे समय तक प्रयोग से कैंसर हो सकता है। भारत देश में इसके अत्यधिक प्रयोग से कैंसर बढ़ भी रहा है। इसलिए अगर हम आने वाले समय में ऐसी जानलेवा व्याधियों से बचना चाहते हैं तो हमें बाल धोने के लिए सिर्फ देसी जड़ी-बूटियों का ही प्रयोग करना चाहिए।  
         जैसे आंवला, शिकाकाई और रीठा सब को लगभग 25-25 ग्राम की मात्रा में लेकर रात को पानी में भिगोकर रख दें। सुबह उस मिश्रण को खुले बर्तन में डालकर अच्छी तरह से मसल लें एवं छान लें। इसके बाद इस घोल से अच्छी तरह मसल-मसल कर बाल धो लें। अगर आप इन कुदरती हर्बल जड़ी बूटियों से बालों को धोते हैं तो आप के बालों का झड़ना रुक जाता है। आपके बाल लंबे, मजबूत एवं घने हो जाते हैं।
          
खान-पान में सुधार करें- आप अपने खान पान में भी सुधार करें। अच्छा सुपाच्य भोजन लें, जंक एवं फास्ट फूड का कम से कम प्रयोग करें। अपने भोजन में मौसमी फल, हरी पत्तेदार सब्जियां, सलाद का भरपूर इस्तेमाल करें। ज्यादा से ज्यादा पानी पिए। दिन में कम  से कम 10-12 गिलास पानी का सेवन जरूर करें। सुबह खाली पेट चार गिलास गुनगुना पानी जरूर पीना चाहिए। अगर आप एक बार में चार गिलास पानी नहीं पी सकते तो 2-2 करके पी लें। क्योंकि सुबह खाली पेट पानी पीने से आपको कब्ज, गैस,एसिडिटी की प्रॉब्लम नहीं होगी और जब पेट स्वस्थ होगा तो बाल खुद ही स्वस्थ होने शुरू हो जाएँगे।  
      अपने भोजन में किसी किसी रूप में आंवले का प्रयोग जरूर करें। इसके लिए आप आंवले की चटनी, जैम,आचार, मुरब्बा, कैंडी आदि ले सकते हैं। एक चमच "त्रिफला चूर्ण" का रात को सोने से पहले गुनगुने पानी से सेवन करें। इससे आपका पाचन भी सही रहेगा और बाल भी मजबूत एवं काले बने रहेंगे। हफ्ते में एक बार सरसों या नारियल के तेल से बालों की मसाज जरूर करनी चाहिए। इससे बालों में रक्त प्रवाह तेज होता है और बाल स्वस्थ एवं मजबूत होते हैं।  

नोट-अगर किसी के बाल अनुवांशिक कारणों से झड़ रहें हैं तो उसे किसी भी उपचार के द्वारा सही नहीं किया जा सकता।

1 comment:

  1. bahut hi accha topic hai...sach mein kafi knowledge hai isme...

    ReplyDelete