Wednesday, February 27, 2019

मुक्त उड़ान🕊भरो परिन्दो, छुहना है आकाश




मुक्त उड़ान🕊भरो परिन्दो, छुहना है⛅आकाश,
पंख🕊रहें मजबूत दोनों, कर्म और👌🏻विश्वास।

बिगड़े हुए हालातों में, तुम मत पड़ना कमजोर,
पुरजोर बहेगी🌾आँधियाँ, गगन⚡करेगा शोर,
परेशान करना चाहेगी, तुम्हें अंधेरी रात🌑।
पंख रहें मजबूत दोनों...

रखना दृढ़ इरादे💪🏻को, तुम मुश्किलों से🕺🏻लड़ना,
पाने को मुकाम🚣‍सदा, संघर्ष🌱है पड़ता करना,
असम्भव कुछ नहीं याद रखना, गुरुओं🙏की यह बात।
पंख रहें मजबूत दोनों...

लक्ष्य🎯तुम्हारा आस्माँ 🗾में, घोसला तुम्हें बनाना है, 
भारत माँ 👣 का महिमा ध्वज🇮🇳वहाँ तक फहराना है ,
कृपा प्रभु  🙏🏻की बरस रही, तू करता जा प्रयास। 

मुक्त उड़ान🕊भरो परिन्दो, छुहना है⛅आकाश,
पंख🕊रहें मजबूत दोनों, कर्म और👌🏻विश्वास।

No comments:

Post a Comment